जोहार छत्तीसगढ़…की धांसू एंट्री…50 दिन पूरे…राज साहू और देवेन्द्र जांगड़े ने जताया दर्शकों का आभार

जोहार छत्तीसगढ़…की धांसू एंट्री…50 दिन पूरे…राज साहू और देवेन्द्र जांगड़े ने जताया दर्शकों का आभार

CGFilm – छत्तीसगढ़ी संस्कृति, धरोहर और छत्तीसगढिय़ों के अभिमान की फिल्म जोहार छत्तीसगढ़… ने अपना 50 दिन पूरा कर लिया है। फिल्म के लीड एक्टर और निर्देशक देवेन्द्र जांगडे और फिल्म के निर्माता सेकेन्ड लीड एक्टर राज साहू दोनों ने छत्तीसगढ़ की जनता को अपना प्यार और आशीर्वाद देने के लिए सोशल मीडिया के जरिए अपना आभार व्यक्त किया है। निर्देशक देवेन्द्र जांगड़े ने बताया उनके डायरेक्शन में बनी ये उनकी पहली फि़ल्म है और पहली फि़ल्म में ही 50 दिन पूरा किया। देवेन्द्र जंगड़े ने बताया कि लॉकडाउन के चलते उनकी फिल्म थिएटर से उतर गयी थी फिर दर्शको की मांग पर दुबारा जब लॉक डाउन के बाद जब सिनेमाघर प्रदर्शित हुई जिसमें सर्वप्रथम दर्शकों की मांग पर जोहार छत्तीसगढ़ को पुन: लगाया गया और जोहार छत्तीसगढ़ का ऐतहासिक 50 दिन पूरा हुआ। फिल्म के सभी सदस्य बहुत खुश है कि उनकी फिल्म ने 50 दिन पूरा कर लिया है।

आपको बता दें कि 9 महीने के लंबे अंतराल के बाद थियेटर खुलते ही छत्तीसगढ़ फिल्म जोहार छत्तीसगढ़… ने एक बार फिर अपना जलवा दिखाया है। रविवार 15 नवंबर से ये फिल्म राजधानी के श्याम टॉकीज में पुन: प्रदर्शित हुई है। जिसे दर्शकों का जबरदस्त रिस्पांस मिल रहा है। निर्माता अभिनेता राज साहू और अभिनेता देवेंद्र जांगड़े के निर्देशन में बनी जोहार छत्तीसगढ़ को दर्शकों ने बेहद पसंद किया था। दीपावली के अवसर पर दर्शकों की मांग पर पुन: ये फिल्म 15 नवंबर से श्याम टाकीज में प्रदर्शित की जा रही है। निर्माता राज साहू ने बताया की कोरोना काल के मद्देनजर फिल्म का प्रदर्शन शासन के नियम का पालन कर मास्क एवं सोशल डेसटेसिंग के साथ किया जा रहा है।

छत्तीसगढ़ी फिल्म जोहार छत्तीसगढ़ फिल्म की कहानी एक ऐसी कहानी है जिसमें छत्तीसगढ़ की अस्मिता को बचाने का ताना बाना बुना गया है। इस फिल्म से डेब्यू कर रहे अभिनेता राज साहू का कहना है कि सिर्फ एक अभिनेता ही नहीं नवोदित कलाकार के तौर पर अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन इंडस्ट्रीज के दिग्गज अदाकारों के साथ कदम पे कदम मिला कर अभिनय करना वाकई सपने को सच करने जैसा होता है। बात तो ये है कि जोहार छत्तीसगढ़ फि़ल्म को प्रोड्यूस करने का मौका भी मिला। साथ ही साथ फिल्म में अपनी अभिनय क्षमता को दिखाने का भरपूर मौका मिला। फिल्म की स्क्रिप्ट बहुत ही अच्छी लिखी गई मेरे संगवारी निर्देशक व एक्शन हीरो देवेंद्र जांगडे ने और मेरे किरदार को बेहतरीन तरीके से उकेरा गया है। फिल्म में राज साहू के संग सोनाली सहारे व देवेंद्र के संग शिखा चिदम्बरे जोड़ी दिखाई देगी। फिल्म में मुख्य कलाकार अनिल शर्मा, पुष्पेंद्र सिंह, विक्रम राज, उपसना वैष्णव, हेमलाल कौसल, निशांत उपाध्याय, क्रांति दीक्षित, किशोर मंडल हैं! संगीत सूरज महानद ने दिया है। गीतों में मधुर आवाज दी है सुनील सोनी, अनुराग शर्मा, अलका चंद्राकर और चंपा निषाद ने। ये फिल्म छत्तीसगढ़ के हक की लड़ाई को परिभाषित कर ,जमीनी पृष्ठभूमि पर आधारित यह फिल्म दो नायको के इर्द- गिर्द घूमती नजर आती है।

WhatsApp chat