फिल्म समीक्षा : लव लेटर

रोमांस और कॉमेडी का डबल तड़का

CGFilm.in (एकान्त चौहान)। राजा छत्तीसगढिय़ा, राजा छत्तीसगढिय़ा-2, आई लव यू, आई लव यू-2 जैसी सुपरहिट फिल्मों का निर्माण करने वाले उत्तम तिवारी एक बार फिर अपने दर्शकों के लिए लव लेटर लेकर आए हैं। जैसा नाम वैसी फिल्म। जी हां, फिल्म देखकर आप भी यही कहेंगे। क्योंकि आज वॉट्सएप के दौर भी प्रेमी-प्रेमिका अपने प्यार का ईजहार लव लेटर से ही करते हैं। लव लेटर में जो बात है, वो किसी और माध्यम में नहीं।

फिल्म की कहानी और उसका प्रस्तुतीकरण आपको फिल्म के अंत तक बांधे रखेगा।  फिल्म के एक्शन सीन तो कमाल के हैं। गाने के एक सीन में हीरो (मन कुरैशी) अपने बाइक की कलाबाजी दिखाते हैं, जो वाकई काफी प्रेक्टिस के बाद ही संभव हुआ होगा।   फिल्म के गाने तो पहले ही काफी लोकप्रिय हो चुके हैं। लेकिन थियेटर में एक बार जरूर देखना चाहेंगे।

फिल्म की जानकारी –

कहानी
फिल्म की कहानी के फस्र्ट हॉफ को कॉलेज लाइफ पर ज्यादा फोकस किया गया है।
राजा (मन कुरैशी) पहली ही नजर में काजल (सृष्टि तिवारी) को दिल दे बैठता है। लेकिन तब तक उसका प्यार एकतरफा ही होता है। काजल उसे बिल्कुल भी भाव नहीं देती है। इस बीच गजनी बने कॉमेडी किंग हेमलाल कौशल और उनकी मंडली काफी कोशिश करते हैं कि काजल भी राजा से प्यार करने लगे। लेकिन सारी कोशिशें बेकार होती है।

इस बीच फिल्म में खूब हंसी मजाक भी होता है और दर्शक खूब इंजॉय करते हैं। और फिर शोले के वीरू स्टाइल में राजा कोशिश करता है। लेकिन वो भी कारगर नहीं होता। फिल्म अपने गति से आगे बढ़ती जाती है। फिल्म के सेकेंड हॉफ  में सारे सीन ही बदल जाते हैं। जब काजल किसी और से शादी होने की बात कहती है। तो राजा अपने प्यार को पाने क्या-क्या कोशिश करता है, इसके लिए आपको फिल्म जरूर देखना होगा। तो अपने नजदीकी सिनेमाघरों में जरूर जाइए और फिल्म का आनंद लीजिए।

डायरेक्शन
राजा छत्तीसगढिय़ा, राजा छत्तीसगढिय़ा-2, आई लव यू, आई लव यू-2 जैसी सुपरहिट फिल्मों का निर्माण करने वाले उत्तम तिवारी ने फिल्म में कसावट लाने काफी कोशिश की है। और हर सीन को बेहतरीन तरीके से डायरेक्ट किया है।

गाने
फिल्म के सारे गाने कर्णप्रिय हैं। जिसे आप थियेटर में देखेंगे तो मजा ही आ जाएगा।  गाने का फिल्मांकन और कॉस्टयूम आपको जरूर पसंद आएगा।

संगीत
फिल्म का संगीत बहुत ही जोरदार है, खासकर बैकग्राऊंड म्युजिक। फिल्म के हर के एक सीन में बैकग्राऊंड म्युजिक कहीं भी शोर पैदा नहीं करता है। अगर बारीकी से देखें तो सेब काटते हुए धर्मेन्द्र चौबे का साउंड भी आपको क्लीयर सुनाई देगा।

कॉमेडी
भई, कहानी जब रोमांटिक लव स्टोरी हो तो कॉलेज का सीन तो बनता ही है। इस बीच हेमलाल कौशल का गजनी गेटअप आपको देखकर ही हंसा जाएगा। और संवाद अदायगी में तो हेमलाल कौशल के क्या कहने। फिल्म जब भी गजनी और चंपाकली को देखेंगे, बस हंसते ही रहेेंगे। और हां, प्रोफेसर के रोल में पुष्पेन्द्र सिंह अपने थोड़े से ही रोल में खूब हंसा जाते हैं।

एक्शन
आमतौर पर देखा जाता है कि रोमांटिक लव स्टोरी में एक्शन सीन ठूंस-ठूंस कर भरे जाते हैं। पर इस फिल्म में आपको बिल्कुल ऐसा महसूस नहीं होगा। जहां जिस सीन की जरूरत थी, वहां सिर्फ उतना ही किया गया। हर एक्शन सीन और स्टंट मन कुरैशी ने स्वयं ही किया है, जिसकी आप तारीफ जरूर करेंगे।

अंत में,
छत्तीसगढ़ी फिल्मों के शौकीन हैं तो आप यह फिल्म जरूर देखें। खासकर मन कुरैशी और छॉलीवुड में डेब्यू कर रही हीरोईन सृष्टि तिवारी की जोड़ी आपको जरूर पसंद आएगी। काजल के रोल में सृष्टि तिवारी बिल्कुल फिट रही है। फिल्म में उसकी ऐक्टिग से कहीं भी ऐसा महसूस नहीं हुआ कि ये उसकी पहली फिल्म है।

Connect with us:

Website: https://www.cgfilm.in
Facebook: https://www.facebook.com/CGFilm.in
Twitter: https://twitter.com/cg_film
Instagram: https://www.instagram.com/cgfilm.in
Youtube: http://bit.ly/CGFilmIn