छत्तीसगढ़ी फिल्म इंडस्ट्री को पारिवारिक फिल्मों की बहुत जरूरत : सतीश जैन

छत्तीसगढ़ी फिल्म इंडस्ट्री को पारिवारिक फिल्मों की बहुत जरूरत : सतीश जैन

CGFilm – छत्तीसगढ़ी फिल्मों के जाने-माने निर्देशक और मोर छईयां भुईयां, झन भूलौ मां-बाप ला और हंस झन पगली जैसी सुपरहिट फिल्में देने वाले सतीश जैन का कहना है कि छत्तीसगढ़ी फिल्म इंडस्ट्री को आज पारिवारिक फिल्मों की बहुत जरूरत है। क्योंकि ऐसी फिल्में पूरा परिवार देखता है और जब परिवार फिल्म देखेगा तो वह सफल तो होगी ही।

सतीश जैन ने अपने जन्मदिन पर आज (3 अप्रैल) को आने वाली फिल्म घरौंदा का मुहूर्त शॉट किया। फिल्म की शूटिंग जल्द ही शुरू होगी। लेकिन अभी कोरोना संकट के चलते इसकी तारीख तय नहीं हो पाई है। उम्मीद है कि छत्तीसगढ़ में हालात सामान्य होते ही फिल्म की शूटिंग शुरू होगी।

सतर्क और सावधान रहें
कोरोना संकट को लेकर सतीश जैन सभी छत्तीसगढ़वासियों से कोरोना गाईड लाइन का पालन करते हुए सतर्क और सावधान रहने की अपील की।
फिलहाल रूकी है चल हट कोनो देख ले ही की शूटिंग सतीश जैन ने Cgfilm.in से चर्चा करते हुए कहा कि उनकी अपकमिंग मूवी चल हट कोनो देख ले ही की शूटिंग फिलहाल रोक दी गई है। क्योंकि रायपुर सहित पूरे छत्तीसगढ़ में अचानक से कोरोना संक्रमण बढऩे लगा है। इसलिए उन्होंने यूनिट के सभी सदस्यों के स्वास्थ्य लाभ और सतर्कता को लेकर इसकी शूटिंग फिलहाल रोक दी है।

दीवाली के आसपास रिलीज होगी फिल्म
वहीं सतीश जैन का कहना है कि चल हट कोनो देख ले ही फिलहाल उम्मीद है कि दीवाली के आसपास सिनेमाघरों में प्रदर्शित होगी।

WhatsApp chat