आखिर “असली कलाकार” कौन है?

CGFilm – आखिर “असली कलाकार” कौन है – ट्रेलर को देखकर कुछ लोगो का मानना है कि असली कलाकार फ़िल्म के चार अंधे है, जिसे निभा रहे मनोज खांडे, जतिन कुमार, दिलीप कौशिक, और रमन चतुर्वेदी, निर्देशक नीरज श्रीवास्तव के अनुसार अंधे के बचपन के कलाकार का चयन करना काफी चैलेंजिंग काम हो चुका था, और इसके चयन के लिए महीना निकल गया था लेकिन कलाकार नही मिल पाए थे, तभी फ़िल्म के हीरो भुनेश साहू जो कि गुरुकुल जैसे बड़ी संस्था में एक शिक्षक है,

उनके ही बदौलत गुरुकुल में पड़ने वाले एक विद्यार्थी लुकेश साहू का चयन किये, उसके बाद शहर में होने वाले आयोजन वाद-विवाद प्रतियोगिता से रामकृष्णा स्कूल से अरुण साहू को चयन किये, लेकिन अब भी 2 बाल कलाकार की जरूरत थी तभी निर्देशक सुनील सागर के सलाह से बिलासपुर के ठेकेदार कन्हैया साहू के लड़के गेंदलाल साहू को लिया गया,, लेकिन अब भी चौथे बाल कलाकार का न मिल पाना निर्देशक के लिए चिंता का विषय था,शूटिंग स्टार्ट हो चुकी थी लेकिन चौथे कलाकार की तलाश खत्म नही हुआ था, तभी शूटिंग करते करते रक्से हाईस्कूल में उनके नजर खिलेश्वर साहू पे गया जो कि अद्भुत प्रतिभावान था, निर्देशक की तलाश खत्म हो गया।

आखिर क्या था इन किरदारों में,, क्यों निर्देशक को अंधो का चयन करने में महीना निकल गया। क्या सच मे ये फ़िल्म के असली कलाकार तो नही है?

इस फ़िल्म में लिजेंड एक्टर रजनीश झांझी और विजेता मिश्रा की जोड़ी पहली बार एक साइको विलन के किरदार में देखेंगे। जो अंधो पर भयानक अत्याचार करते नजर आएंगे,,
इन लोगो के निर्दयी और क्रूरता इतना ज्यादा रहता है कि लोगो की आत्मा को अंदर से झकझोर देंगे, लेकिन फ़िल्म में ऐसे कुछ घटना का ज़िक्र है बोलते है ,, जिससे सही मायने में असली कलाकार यही लोग हो सकते है?

फ़िल्म में यमराज और चित्रगुप्त के अनोखे जुगलबंदी दिखेंगी जिसे निभाया हैं धर्मेंद्र सोनी और मशहूर हास्य कलाकार संतोष निषाद (बोचकु) आखिर क्या है इन लोगो के किरदार में? क्यों है इस फ़िल्म में यमराज और चित्रगुप्त की जरूरत ? कही सारे किरदारों को आंखमिठौली कर, कही असली कलाकार यही लोग तो साबित नही होंगे?

सुपर स्टार उपासना वैष्णव जी के एक अद्भुत त्याग समर्पण और बलिदान की कहानी है।एक ऐसे माँ की किरदार निभाती नजर आएगी जिनके चार संतान पैदा होते है और चारो के चार अंधे होते है? ये कैसा संयोग है? क्या है इसकी कहानी, कही असली कलाकार तो उपासना वैष्णव जी ही तो नई निकल जायगी?

फिल्म के नायक है भुनेश साहू, जो नायिका आस्था दयाल के साथ, प्यार रोमांस करते नजर आएंगे, सूत्रों के अनुसार पूरी फिल्म भुनेश और आस्था के इर्द गिर्द घूमती नजर आयगी। अगर पूरी कहानी नायक और नायिका से चलेगी, तो क्या ये भी हो सकता है कि असली कलाकार भुनेश और आस्था है?

डायरेक्टर के अनुसार फ़िल्म के अंतिम 2 में पता चलेगा कि असली कलाकार कौन है?

इस फ़िल्म के निर्माता है अखिलेश मिश्रा जी, फ़िल्म में उर्वशी साहू, निशा चौबे, कृष्णा साहू, राजू पाण्डे, विनायक अग्रवाल, सुनील दत्त मिश्रा, महावीर सिंह चौहान, विजय कुमार साही जैसे उम्दा कलाकार लोग भी अपने अभिनय का लोहा मनवाने के लिए तैयार है। जो *13 दिसम्बर 2019* को आपके नजदीकी सिनेमाघरों में नजर आएंगे।

आखिर “असली कलाकार” कौन है

Leave a Comment