छत्तीसगढ़ी फिल्मों के जाने-माने निर्देशक संतोष जैन की मिस्टर चंदनिया 6 अगस्त को होगी रिलीज…


CGFilm.in | छत्तीसगढ़ी फिल्मों की बात करें तो अब तक लगभग 4 सौ से ज्यादा छत्तीसगढ़ी फिल्में बड़े परदे पर आ चुकी हैं। इसमें भी सैकड़ों फिल्मों ने अपनी लागत के बराबर कमाई की है, तो कई फिल्मों ने जबरदस्त सफलता दिलाते हुए रिकॉड भी तोड़ दिया है। इसमें सबसे पहले नाम आता है मोर छईया भुईयां का। छत्तीसगढ़ राज्य निर्माण के साथ ही आई इस फिल्म ने क्षेत्रीय फिल्मों का कारोबार बढ़ाने और स्थानीय जनता की भागीदारी इसमें तय की है। वहीं सभी का मानना है कि यदि छत्तीसगढ़ फिल्मों को ज्यादा से ज्यादा थियेटर उपलपब्ध करा दिए जाएं तो निश्चित ही ये फिल्में बॉलीवुड फिल्मों के ज्यादा तो नहीं लेकिन कमतर भी साबित नहीं हो पाएगी।

बहरहाल, आपको बता दें कि छत्तीसगढ़ी फिल्मों के जाने-माने निर्माता और निर्देशक संतोष जैन की फिल्म मिस्टर चंदनिया जल्द ही बढ़े परदे पर धूम मचाने तैयार है। बताया जा रहा है कि ये फिल्म 6 अगस्त को रिलीज होने वाली है, जो आपके नजदीकी सिनेमाघरों में प्रदर्शित होगी। मि. चंदनिया के बारे में बताया जा रहा है कि ये फिल्म आम फिल्मों से अलग है। ये फिल्म फिल्मों में काम करने वाले यानी लोक मंच पर काम करने वालों को लेकर बनाई गई है। इस फिल्म में लोक मंच के कलाकारों की जरूरतों और समस्याओं को दिखाया गया है। इस फिल्म के हीरो आकाश सोनी हैं। प्रमुख भूमिका में कौशल उपाध्याय हैं। इसके अलावा बबीता श्रीवास्तव, चांदनी पारख और हेमलाल उपाध्याय ने भूमिकाएं निभाई हैं।

13 अगस्त को रिलीज होगी मैं वादा निभाहूं…
एक और छत्तीसगढ़ी फिल्म मैं वादा निभा हूं जल्द ही आने वाली है। इमोजिनेशन फिल्मस् की प्रस्तुति इस फिल्म के निर्माता बी.आर. चवरे और सुषमा चवरे (रानू) हैं। फिल्म के लेखक और निर्देशक याकूब खान हैं। इस फिल्म की रिलीजिंग डेट सामने आ गई है। ये फिल्म 13 अगस्त को आपके नजदीकी सिनेमाघरों में रिलीज होगी।

फिल्म के अन्य कलाकारों की बात करें तो इसमें अनुध्या चौधरी, संदीप त्रिपाठी, प्रतिभा चौहान, अमित चक्रवर्ती, लीना ठाकुर, मुमताज हुसैन, राजू त्रिपाठी, मोनिका जैन, याकूब खान, अमरजीत (बंटी), नीतेश लहरी अदाकरी दिखाएंगे। फिल्म के गानों को स्वर दिया है- समीर खान, तारा साहू, दीपशिखा, विवेक शर्मा, हिरेश सिन्हा और देवकी पांडे ने। गीत और संगीत सलाम ईरानी, कैमरा जितेन्द्र भारद्वाज (जीतू), इन्द्रसेन ठाकुर, पटकथा सुषमा चवरे (रानू) का है।