कहानी अच्छी मिले तो हाथ से जाने नहीं देता : प्रभाष (फिल्म सुसराल के निर्देशक)

CGFilm – पिछले साल नया साल के मौके पर 3 जनवरी को रिलीज हुई छत्तीसगढ़ी मूवी ससुराल को इस साल यानी 2021 में एक साल पूरा होने जा रहा है। पिछले साल प्रदर्शित हुई ये मूवी कुछेक सिनेमाघरों में ही रिलीज हुई थी। जिस किसी ने भी ये फिल्म देखी सबने जमकर तारीफ की। ससुराल फिल्म के एक साल पूरे होने पर Cgfilm.in ने फिल्म के निर्देशक प्रभाष से फोन पर चर्चा की तो उन्होंने सर्वप्रथम अपने दर्शकों को नए साल की शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि नया साल छत्तीसगढ़ वासियों के लिए सुखद और उल्लासमय रहे। साथ ही उन्होंने कोरोना संकट के चलते गाईड लाइन का पालन करने और मास्क अनिवार्य रूप से पहनने की सभी से अपील भी की।

प्रभाष ने कहना है कि वे फिल्में तभी करते हैं, जब उसका कंटेंट उन्हें अच्छा लगता है। वे चाहते हैं कि दर्शकों को शुद्ध पारिवारिक फिल्में देखने को मिले। उनकी अभी आने वाले फिल्म बिरतिया बाबा के अमृत माटी है, जो लगभग पूरी हो चुकी है। फिल्में के कुछ हिस्से ही बाकी हैं। साथ ही प्रभाष अपने दर्शकों से कहना चाहते हैं कि जिस तरह उन्होंने फिल्म ससुराल को अपना प्यार और आशीर्वाद दिया है, उसी तरह उनका स्नेह और आशीर्वाद लगातार मिलता रहे।
प्रभाष का कहना है कि उनकी फिल्म ससुराल कोरोना संकट के चलते छत्तीसगढ़ के कई जिलों में प्रदर्शित नहीं हो पाई। लगातार लॉकडाउन के चलते ये फिल्म प्रदर्शित नहीं हो पाई। साथ ही उनका कहना है कि ये फिल्म एक बार दर्शकों के बीच अवश्य जाना चाहिए।

ससुराल फिल्म को लेकर प्रभाष का कहना है कि ये फिल्म शुद्ध पारिवारिक फैमिली ड्रामा पर बनी फिल्म है, जिसमें आपको एक्शन, कॉमेडी और रोमांस के साथ ही छत्तीसगढ़ी रीति-नीति, शादी-विवाह के संस्कारों की जीवंत झलकियां देखने को मिलेगी। फिल्म की कहानी को लेकर उनका कहना था कि वास्तविक जिंदगी में बेटी जब विदा होकर ससुराल जाती है, तो उसे कई सारी जिम्मेदारियों की निर्वहन करने की सीख मायके से दे दी जाती है, वहीं बेटे को भी बहू आने पर अपनी जिम्मेदारियां का निर्वहन किस प्रकार करना चाहिए, ये भी समझाया जाता है। इसके साथ ही फिल्म में कॉमेडी और एक्शन भी भरपूर देखने को मिलेगा। फिल्म के कलाकारों के बारे में बताते हुए प्रभाष ने कहा कि फिल्म में अभिनेता करण खान का किरदार तो जबरदस्त है। इसके अलावा अन्य कलाकारों ने भी बहुत ही अच्छा अभिनय किया है।

वैसे आपको बता दें कि ससुराल मूवी रिश्तों का सार है। जैसा कि नाम से स्पष्ट है कि ये फिल्म ससुराल और मायके के बीच ताने-बाने को लेकर बनी होगी, ठीक वैसा ही ही है। लेकिन फिल्म की कहानी में बहुत सारे ऐसे मोड़ आएंगे, जब फिल्म देखकर दर्शकों को इसमें कुछ और हटकर देखने को मिलेगा। वैसे ससुराल तो है ही शुद्ध पारिवारिक कहानी पर आधारित है। पर इसमें ससुर-दामाद, बेटा-बहू के साथ ही उन सारे रिश्तों को फिल्माया गया है, जो वास्तविक जिंदगी में सभी के बीच होते हैं।