बेहतरीन डॉयरेक्शन की दमदार फिल्म- प्रेम युद्ध


फिल्म समीक्षा
एकान्त चौहान (CGFilm.in)। छत्तीसगढ़ के 18 से ज्यादा थियेटरों में रिलीज हुई छत्तीसगढ़ी फिल्म प्रेम युद्ध कई मायनों में वाकई एक बेहतरीन फिल्म है। फिल्म के युवा डायरेक्टर सुमीत मिश्रा ने फिल्म में एक्शन को एक अलग ही तरीके से पेश किया है, जो सिनेमाघर में मौजूद दर्शकों की तालियों से ही पता चलता है कि फिल्म को दर्शकों ने कितना पसंद किया। फिल्म की कहानी बिल्कुल नई है और गाने तो कमाल ही हैं। फिल्म में आपको छॉलीवुड फिल्म की जानी-मानी अदाकारा शिखा चिताम्बरे भी नजर आएगी, तो उनका किरदार और रोल क्या है, ये जानने के लिए तो आपको नजदीकी सिनेमाघर में जाना ही होगा, पर शिखा ने इस रोल में अपनी एक अलग ही पहचान बनाई है, जिसे दर्शकों ने काफी पसंद किया है।

ये तो रही फिल्म की कुछ झलकियां। हम वापस लौटते हैं प्रेम युद्ध में। फिल्म में युवा डॉयरेक्टर सुमीत मिश्रा की ये पहली फिल्म है, पर पूरे फिल्म के दौरान आपको डायरेक्शन में ये अहसास ही नहीं होगा, कि ये उनकी पहली फिल्म है। यानी एक मंजे हुए डायरेक्टर के बतौर उन्होंने फिल्म को बहुत ही बेहतरीन बनाया है।

फिल्म की कहानी मानव तस्करी और माफिया डॉन से संबंधित है। जैसा कि ज्यादातर फिल्मों में होता है, हीरो इन सबसे टकराता है और विलेन को मात देेता है। ऐसा ही कुछ इस फिल्म में भी है, पर सस्पेंस पर सस्पेंस…और एक के बाद एक जब किरदारों पर से परदा उठता जाता है, तो पूरा हॉल तालियां से गूंजता है। तो क्या है वो सस्पेंस और क्या है इन सबके बीच अपने प्यार और परिवार को सुरक्षित करने की नायक की कहानी…ये सब देखने आपको नजदीकी सिनेमाघरों मे जाना होगा।


कृष्णा के रोल जयेश
फिल्म के हीरो जयेश कामवरपु ने अपना रोल पूरी मेहनत और दमदारी से निभाया है। उनके चेहरे का भाव हर सीन में बहुत ही बेहतरीन है। खासकर, एक्शन सीन के दौरान उन्होंने खूब मेहनत की है। कुछ सीन तो ऐसे रहे हैं कि दर्शक अवाक रह गए।

रागिनी के रोल में वीणा सेन्द्रे
फिल्म की हीरोईन वीणा सेन्द्रे का किरदार भी काफी अच्छा है। ये उनकी भी पहली ही फिल्म है। पर जिस तरह उन्होंने अपना परफॉर्मेंस दिखाया है, आप यकीन ही नहीं कर पाएंगे कि ये उनकी पहली फिल्म है। खासकर गाने और डांस पर उनकी पकड़ कहीं भी कम नहीं रही।

नायक पर भारी पड़े खलनायक
फिल्म में खलनायक अजय पटेल ने जिस दमदारी और एक्शन से अपना रोल प्ले किया है, वाकई  काबिले-तारीफ है। निसंदेह उनके फरफॉर्मेंस को देखकर कहा जा सकता है कि छॉलीवुड को अजय पटेल के रूप में एक उम्दा और बेहतरीन कलाकार मिला है। तभी तो वो ससुराल फिल्म में सर्वश्रेष्ठ कलाकार से नवाजे गए थे। और प्रेम युद्ध में उनकी एंट्री ही दर्शकों को रोमांचित करती रही। फिल्म के डॉयलॉग देखकर ऐसा लगा कि कहीं-कहीं नायक पर ही भारी पड़ गए खलनायक!

ठहाके भी जोरदार
फिल्म में आपको एक्शन और सस्पेंस के साथ कॉमेडी भी भरपूर मिलेगी। कॉमेडियन की एंट्री ही आपको हंसाएगी।
गीत और संगीत
फिल्म के गाने और संगीत पक्ष अच्छे जान पड़ते हैं। खासकर मोतिचूर लड्डू… तो दर्शक को झूमने पर मजबूर ही कर देगा। इसके अलावा जयेश और वीणा की जोड़ी के गाने भी काफी कर्णप्रिय हैं।  

अंत में,
कुल मिलाकर ये फिल्म आपको जरूर पसंद आएगी, क्योंकि एक युवा डॉयरेक्टर ने इसमें वो सब कुछ शामिल किया है, जो आज दर्शकों की डिमांड होती, खासकर एक्शन सीन को लेकर। आपको एक बार फिर बता दें कि ये फिल्म राजधानी के श्याम टॉकीज सहित छत्तीसगढ़ के 18 से ज्यादा सिनेमाघरों में एक साथ रिलीज हुई है। और ये फिल्म आपको जरूर देखनी चाहिए।