दईहान (द काउ मैन) ठेठवार समाज की विलुप्त होती परंपराओं को जीवित करने का प्रयास : भूपेन्द्र साहू-मलयज साहू

CGFilm – छत्तीसगढ़ राज्य निर्माण के साथ ही कई क्षेत्रीय फिल्मों के निर्माण ने भी काफी गति पकड़ी है। छत्तीसगढ़ के रीति-रिवाजों और परंपराओं को दर्शाने वाली सैकड़ों फिल्मों का प्रदर्शन अब तक हो चुका है। वहीं अभी कई फिल्मों का निर्माण भी लगातार जारी है। छत्तीसगढ़ी फिल्मों की बात करें तो ये फिल्में अब दर्शकों को धीरे-धीरे सिनेमाघरों की ओर खींचने लगी हैं। क्योंकि सन 2000 के फिल्मों के मुकाबले अब दर्शकों की डिमांड के चलते भी फिल्में बनने लगी हैं। और कई छत्तीसगढ़ी फिल्मों ने तो रिकॉडतोड़ कमाई भी की है।

वहीं एक और छत्तीसगढ़ी फिल्म दईहान (द काउ मैन) आपके नजदीकी सिनेमाघरों में 7 फरवरी, 2020 को रिलीज होने जा रही है। ये फिल्म ठेठवार समाज की विलुप्त होती परंपराओं को जीवित करने का प्रयास है, ऐसा कहना है कि फिल्म के निर्देशक भूपेंद्र साहू एवं निर्माता मलयज साहू का। उन्होंने पत्रकारों से चर्चा में बताया कि छत्तीसगढ़ में चारे तथा चारागान की कमी के चलते गांव के ठेठवार 4 से 6 महीने के लिए जंगल में झोपड़ी बनाकर गाय एवं भैंस को चराने ले जाया करते थे। फिल्म इसी थीम को लेकर बनाई गई है, जो निश्चित ही दर्शकों को पसंद आएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *