नेत्रहीनों पर फिल्म बनाना आसान नहीं, पर नीरज श्रीवास्तव ने वो कर दिखाया : फिल्म समीक्षक

नेत्रहीनों पर फिल्म

Movie Reviwe – Anirudh Dube Asli kalakar – असली कलाकार II Chhattisgarhi Film

CGFilm – छत्तीसगढ़ी फिल्मों सहित बॉलीवुड फिल्मों के समीक्षक अनिरूद्ध दुबे ने फिल्म असली कलाकार को एक बेहतरीन फिल्म बताते हुए फिल्म के निर्देशक नीरज श्रीवास्तव की तारीफ की है। उन्होंने कहा कि नेत्रहीन जैसे विषयों पर फिल्म बनाना आसान काम नहीं होता, फिर नीरज श्रीवास्तव ने इसे परदे पर काफी अच्छे ढंग से प्रस्तुत किया है। किसी भी फिल्म में खासकर, नेत्रहीनों पर बनी फिल्म में खासकर विश्वसनीयता लाना काफी कनि होता है। लेकिन फिल्म असली कलाकार में ये सब बातें नजर आती है।

फिल्म समीक्षक अनिरूद्ध दुबे ने आगे कहा कि फिल्म में सारे कलाकारों का काम अच्छा है। खासकर रजनीश झांझी, जो कि एक निगेटिव किरदार है, इसमें उन्होंने जो पैनापन प्रस्तुत किया, वो काबिले-तारीफ है। इसके अलावा फिल्म के अन्य कलाकार अभिनेता भुनेश साहू, अभिनेत्री आस्था दयाल सहित अन्य कलाकारों ने भी बहुत अच्छा अभिनय किया है।
वैसे आपको बता दें कि छत्तीसगढ़ी फिल्म असली कलाकार आज 13 दिसंबर, शुक्रवार को छत्तीसगढ़ के 16 सिनेमाघरों में एक साथ प्रदर्शित हुई। फिल्म को लेकर दर्शकों की राय काफी अच्छी है। दर्शकों ने तो इस फिल्म को सुपरहिट कहा है।
फिल्म के निर्देशक नीरज श्रीवास्तव हैं। इसके अलावा फिल्म में दिलीप कौशिक, मनोज खांडे, जतीन कुमार एवं रमन द्विवेदी ने दिव्यांग कलाकारों की भूमिका में संवेदना उड़ेलने में प्रभावी अभिनय किया है। फिल्म में रजनीश झांझी, उपासना वैष्णव, उर्वशी साहू, महावीर सिंह, निशा चौबे, मोनिका जैन, विजेता मिश्रा, राजू पाण्डेय, विनायक अग्रवाल धर्मेन्द्र एवं संतोष ने भूमिका निभाई है। फिल्म का संगीत सुनील सोनी और फोटोग्राफी देवाशीष मोहित्रा की है। संपादन गौरांग द्विवेदी तो कोरियोग्राफर निशांत उपाध्याय का है।
वैसे आपको बता दें कि फिल्म दिव्यांगों की समस्याओं पर केन्द्रित है। साथ ही इसमें रोमांस, एक्शन, फैमिली ड्रामा और कॉमेडी का तडक़ा भी देखने को मिलेगा। फिल्म सत्या फिल्म क्रियेशन के बैनर तले बना है।

Leave a comment