मनमोहन ठाकुर ने किया बासी पर शानदार वीडियो पोस्ट… और लिखी कुछ ऐसी बातें कि क्या कहने…

छत्तीसगढ़ी फिल्मों के जाने-माने कलाकार मनमोहन सिंह ठाकुर को भला आज कौन नहीं जानता। इसके पीछे सबसे बड़ी वजह उनका आम लोगों से सहजता से मिलना और गोठ-बात करना है। मनमोहन ठाकुर जहां भी लोगों से मिलते हैं, बड़े आत्मीयता और सहजता से। उनसे मिलकर लोगों को ऐसा लगता ही नहीं कि उनके सामने छत्तीसगढ़ी फिल्मों का कोई इतना बड़ा कलाकार है। ये तो हुई लोकप्रियता का एक छोटा सा उदाहरण।

अभी-अभी मनमोहन ठाकुर ने अपना एक वीडियो जारी किया है, जिसमें वो बड़े चांव से बासी खाते दिखाई दे रहे हैं। और बासी का नाम सुनते ही हर छत्तीसगढिय़ा के मुंह में पानी आ जाना स्वाभाविक है। क्योंकि बासी तो छत्तीसगढ़ की पहचान है और पौष्टिकता इतनी कि बड़े-बड़े इसे स्वीकार करते हैं। खैर, हम आपका ज्यादा समय नहीं लेते हुए ये वीडियो आपसे शेयर कर रहे हैं और साथ ही उनकी लिखी बातें, जिन्हें पढ़कर आप भी कह उठेंगे- भई वाह, क्या कहना…
देखें वीडियो और पढ़ें ये सुंदर बातें…

खुल्ला अंगना…धरती दाई के कोरा…पताल के गलगलहा चटनी… जरी में बरी मिंझरा साग…बटकी में मही मिंझरा बासी…बासी में बुडे़ गोंदली…झन्नाटेदार भूख…बड़े बड़े कौंरा…बासी के बाद,सुड़ुक सुड़ुक आवाज़ के साथ टांड़ो के आनंद….अाहहहहह😋😋🤗अईसना अद्भुत भोजन सिर्फ##हमर छत्तीसगढ़ महतारी##के कोरा म ही मिलथे,मोला आज तक समझ नई अईस🤔की इंहाके भाई मन अपन गाँव घर ल छोड़के,पलायन काबर करथे???

Manmohan Singh Thakur I ಅವರಿಂದ ಈ ದಿನದಂದು ಪೋಸ್ಟ್ ಮಾಡಲಾಗಿದೆ ಬುಧವಾರ, ಮೇ 20, 2020

खुल्ला अंगना…धरती दाई के कोरा…सील लोढ़ा में पिसाय पताल के गलगलहा चटनी… जरी में बरी मिंझरा साग…बटकी में मही मिंझरा बासी…बासी में बुड़े गोंदली…झन्नाटेदार भूख…बड़े बड़े कौंरा…बासी के बाद…सुड़ुक सुड़ुक आवाज़ के साथ टांड़ो के आनंद….आहहहहह?????? अईसना अद्भुत भोजन सिर्फ हमर छत्तीसगढ़ महतारी के कोरा म ही मिलथे,मोला आज तक समझ नई अईस??की इंहाके भाई मन अपन गाँव घर ल छोड़के,पलायन काबर करथे???