Paheli Gavan Ke – पहेली गवन के Chhattisgarhi Album Video Song Lyrics

“Paheli Gavan Ke” Chhattisgarhi Panthi Album Song Lyrics from Suva Geet Album “Paheli Gavan Ke” This song is sung by Alka Parganiha (Chandrakar) Chhattisgarhi Album “Paheli Gavan Ke” Released on 19 Nov 2020

Lyrics

हाँ पहेली गवन के मैं डेहरी बइठारेंव ओ
छोड़ के चले हे परदेश
पहेली गवन के मैं डेहरी बइठारेंव ओ
छोड़ के चले हे परदेश

परदेश रे सुवा मोर छोड़ के चले हे परदेश
परदेश रे सुवा मोर छोड़ के चले हे परदेश

तरी हरी ना मोर ना ना हाय सुवा ना
तरी हरी ना मोर ना ना
तरी हरी ना मोर ना ना हाय सुवा ना
तरी हरी ना मोर ना ना

काखर संग खेल हुँ मैं
काखर संग खा हुँ
की काला रखंव मन मा

काखर संग खेल हुँ मैं
काखर संग खा हुँ
की काला रखंव मन मा

मन बांध रे सुवा मोर
छोड़ के चले हे परदेश
मन बांध रे सुवा मोर
छोड़ के चले हे परदेश

तरी हरी ना मोर ना ना हाय सुवा ना
तरी हरी ना मोर ना ना
तरी हरी ना मोर ना ना हाय सुवा ना
तरी हरी ना मोर ना ना

खेलबे ननन्द संग
खाबे सासे संग
छोटे देवर संग मन बांध

खेलबे ननन्द संग
खाबे सासे संग
छोटे देवर संग मन बांध

मन बांध रे सुवा मोर
छोड़ के चले हे परदेश
मन बांध रे सुवा मोर
छोड़ के चले हे परदेश

तरी हरी ना मोर ना ना हाय सुवा ना
तरी हरी ना मोर ना ना
तरी हरी ना मोर ना ना हाय सुवा ना
तरी हरी ना मोर ना ना

छोटे देवर मोर बेटा बरोबर
कइसे रखंव मन बांध

मन बांध रे सुवा मोर
छोड़ के चले हे परदेश
मन बांध रे सुवा मोर
छोड़ के चले हे परदेश

तरी हरी ना मोर ना ना हाय सुवा ना
तरी हरी ना मोर ना ना
तरी हरी ना मोर ना ना हाय सुवा ना
तरी हरी ना मोर ना ना

अंगना मा तुलसी के बिरवा लगा लिया
दियना ला कइबे जलाय
अंगना मा तुलसी के बिरवा लगा लिया
दियना ला कइबे जलाय

मन बांध रे सुवा मोर
छोड़ के चले हे परदेश
मन बांध रे सुवा मोर
छोड़ के चले हे परदेश

तरी हरी ना मोर ना ना हाय सुवा ना
तरी हरी ना मोर ना ना
तरी हरी ना मोर ना ना हाय सुवा ना
तरी हरी ना मोर ना ना

पहेली गवन के मैं डेहरी बइठारेंव ओ
छोड़ के चले हे परदेश
पहेली गवन के मैं डेहरी बइठारेंव ओ
छोड़ के चले हे परदेश

परदेश रे सुवा मोर छोड़ के चले हे परदेश
परदेश रे सुवा मोर छोड़ के चले हे परदेश

तरी हरी ना मोर ना ना हाय सुवा ना
तरी हरी ना मोर ना ना
तरी हरी ना मोर ना ना हाय सुवा ना
तरी हरी ना मोर ना ना

तरी हरी ना मोर ना ना हाय सुवा ना
तरी हरी ना मोर ना ना
तरी हरी ना मोर ना ना हाय सुवा ना
तरी हरी ना मोर ना ना

Lyrics | Chhattisgarhi Album Song

SingersAlka Parganiha( chandrakar)
AlbumPaheli Gavan Ke (suva geet)