रंगमंच के प्रख्यात कलाकार गुरुदेव सिंग भाटिया के निधन से कला जगत में शोक

दुर्ग। अपने नाटक और रंगमंच के जरिए से देश के तत्कालीन मुद्दों पर व्यंग्यात्मक प्रहार करने वाले प्रख्यात के कलाकार गुरुदेव सिंग भाटिया आज हमारे बीच नहीं रहे। 67 वर्षीय गुरुदेव सिंग भाटिया का गत गुरुवार शाम 5 बजे निधन हो गया है। बताया जा रहा है कि वे कुछ दिनों से अस्वस्थ चल रहे थे। शुक्रवार 5 जून को सुबह 10 बजे उनका अंतिम संस्कार हरनाबांधा मुक्ति धाम में किया गया। श्री भाटिया रंगमंच कलाकार मनप्रीत सिंग भाटिया, गुरमीत सिंग भाटिया, काके एवं दिलीप सिंग भाटिया के पिता थे। उनके निधन से कला जगत में शोक है। कलाकारों ने उनके निधन को अपूरणीय क्षति बताया है। रंगमंच के प्रख्यात

टीप:- जैसा कि आप सब जानते हैं सीजीफिल्म.इन लगातार छत्तीसगढ़ी फिल्मों, वीडियो सांग, एलबम, शार्ट फिल्में और कलाकारों, लोक कलाकारों और उन सभी कलाकारों, जो शूटिंग के दौरान महत्वपूर्ण भूमिकाएं निभाते हैं, इन सबकी खबर आप तक पहुंचाता है। सीजीफिल्म.इन में हमने छत्तीसगढ़ के सभी नामी कलाकारों के साथ ही कला जगत से जुड़े अधिकांश कलाकारों की प्रोफाइल भी बनाई है। इसके अलावा कलाकारों, फिल्मों की शूटिंग और वीडियो सांग की खबरें लगातार हर दिन आप तक सीजीफिल्म.इन पहुंचाते आ रहा है। इसके साथ ही सीजीफिल्म.इन की कोशिश रहती है कि वो छत्तीसगढ़ी फिल्मों के निर्माताओं और कलाकारों के साथ सीधी बातचीत कर शूटिंग के दौरान उनके अनुभवों और रूझान को भी सामने लाए, ताकि इंडस्ट्री में आने वाले नए कलाकारों को उनसे कुछ सीखने का मौका मिले और वे उनसे प्रेरित होकर एक बेहतरीन कलाकार बन सकें। सीजीफिल्म.इन से आप भी जुड़ सकते हैं, तो देर किस बात की…