रंगमंच के प्रख्यात कलाकार गुरुदेव सिंग भाटिया के निधन से कला जगत में शोक

दुर्ग। अपने नाटक और रंगमंच के जरिए से देश के तत्कालीन मुद्दों पर व्यंग्यात्मक प्रहार करने वाले प्रख्यात कलाकार गुरुदेव सिंग भाटिया आज हमारे बीच नहीं रहे। 67 वर्षीय गुरुदेव सिंग भाटिया का गत गुरुवार शाम 5 बजे निधन हो गया है। बताया जा रहा है कि वे कुछ दिनों से अस्वस्थ चल रहे थे। शुक्रवार 5 जून को सुबह 10 बजे उनका अंतिम संस्कार हरनाबांधा मुक्ति धाम में किया गया। श्री भाटिया रंगमंच कलाकार मनप्रीत सिंग भाटिया, गुरमीत सिंग भाटिया, काके एवं दिलीप सिंग भाटिया के पिता थे। उनके निधन से कला जगत में शोक है। कलाकारों ने उनके निधन को अपूरणीय क्षति बताया है।

WhatsApp chat